आंटी ने दिलाई मॉं की चूत


Aunty Ne Dilayi Maa Ki Chut हेलो दोस्तो, मेरा नाम रोहित है. मैं अपने मम्मी-डाडी का एक्लोत बेटा हूँ और हम अमृतसर मे रहते है. मैं बी.कॉम 1स्ट ईयर मे हूँ और खूब मज़े से अपनी ज़िंदगी काट रहा हूँ. मा की चुत

दोस्तो, हमारे घर पर एक शिल्पा नाम की लेडी आती-जाती रहती थी जो की मम्मी की बहोत अछी सहेली है और वो अक्सर दोपहर को ही पापा के ना होने पर आती थी. शिल्पा आंटी की उमर 36 साल है जो की मेरी मम्मी के बराबर है. शिल्पा आंटी के पति एक बहोत ही बड़े रिच बिज़्नेस मॅन है और अक्सर काम के सिलसिले मे बाहर ही रहते है.

शिल्पा आंटी अक्सर दोपहर मे 2 बजे करीब ही आती थी. एक दिन की बात है, हमारी रिश्तेदारी मे किसी नोन को जो की बहोत बीमार था उसे देखने गये हुए थे, वाहा मेरे जाने का भी मन था पर मेरे एग्ज़ॅम जो की पास ही थे उसकी वजह से घरवाले मुझे साथ नही ले गये. उन्होने मुझे घर पर ही स्टडी करने को कहा और जो की ठीक भी था क्योकि अगर मैं वाहा चला जाता तो मेरी स्टडी मे नुकसान होता. ये कहानी आप देसी कहानी डॉट नेट पर पढ़ रहे है.

मम्मी-डाडी के जाने के बाद उसी दिन शिल्पा आंटी करीब डेली की तरह 2 बजे घर पर आ गई. मैने दरवाजा खोला और उन्हे मम्मी- डाडी के यहा ना होने के बारे मे बताया क्योकि मैं उन्हे बाहर से ही बाहर ही भेजना चाहता था पर उन्होने मेरी बात सुनी और खुद दरवाजा पूरा खोलते हुए अंदर आकर सोफे पर बैठ गई.

अब आंटी अंदर आ ही गई थी तो मैने दरवाजा लॉक किया और उनके करीब आकर उनसे चाय-कॉफी के बारे मे पूछा तो उन्होने मना कर्दिया. शिल्पा आंटी की ना सुन कर मैं थोड़ा कन्फ्यूज़्ड हो गया क्योकि वो कभी भी खाने के मामले मे ना नही करती थी. मैं उनके पास मे ही आकर बैठ गया तो आंटी बोली ‘मैं तो तुम्हारे मम्मी-डाडी की आब्सेन्स मे तुम्हारा हाल-चाल पूछने आई हूँ’.

शिल्पा आंटी – बोहोत अछी बात है, पर तुम्हे इस ग्रंथ मे से सबसे अछा पार्ट कोनसा लगा है?

मैं – आंटी, मैने इसके एक पार्ट मे महारानी को अपने महाराजा के साथ सेक्स करके उनके बेटे के जनम के बारे मे पढ़ा, जो की मुझे बहोत अछा लगा. पर आंटी मुझे एक बात समझ नही आती की सिर्फ़ पति-पत्नी के साथ सोने से न्यू बोर्न कैसे हो सकता है!!

शिल्पा आंटी- रोहित बेटा, तुम अभी इतना नही जानते.

मैं – आंटी तो बताओ मुझे, मेरे दिमाग़ मे ये सवाल काफ़ी समय से है.

शिल्पा आंटी- बेटा, सिर्फ़ पति- पत्नी के साथ सोने से ही नही कुछ होता हैं बल्कि साथ मे एक दूसरे से सेक्स करने से होता है.

अब आंटी ने मुझे अपने पास बैठने को कहा तो मैं उनके पास आकर बैठ गया और वो मेरे बालो मे अपनी उंगलिया सहलाने लग गई. उंगलिया सहलाते हुए वो मेरे और करीब आ गई और मुझे अपने सीने से लगा लिया और फॉर उनका दुपट्टा भी नीचे गिर गया, शायद उन्होने जान-बूज कर खुद गिराया था.

Comments 3

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published. Required fields are marked *


Online porn video at mobile phone


antarvasna marathi com???? ?????antarvashanadesi cudai????? ???antarvasna maa beta???ww antarvasnaantarvasna xxx storyindian sex photoantarvasna sax storyantarvasna sex videoantarvasna.hindi me antarvasnaantarvasna mastramantarvasnasexstoriesdesi sexywww antarvasna cominnon veg storykamwalimarathi sex storydedi sexantarvasna jabardastisexy auntysantarvasna comicsantarvasna bhabhi kisex stories antarvasnaantarvasna hindi story apphot sexy storiessex stories in hindisex sexysexy stories in hindichudai story hindigay antarvasnaindian sex kahanigand sexantarvashnachetanas???????????indian real sex storiesantarvasna hindi sex stories appxxx kahaniantarvasna chachi kibap beti sexsexy story in hindichachi ki chudaiantarvasna com imagesindian hardcore sexantarvasna mp3 hindiantarvasna padosandesikahanianatrvasnahindisexystoryindian sex photokasthuri nudedesisexanatarvasnabap beti antarvasnahindi sex khaniyalatest antarvasnawww.hindi sexhindi kahaniyaantarvasna hinde storemaa ki chudai hindiantarvasna hindi storywww.indiansexstories???www.hindi sex storyantarvasna com new storyantrwasnama ki chudaimarathi antarvasna comnangisuhagrat sexsex story in bengalimarryhelpsexi bhabhiindian sex storyshot sexy bhabhiantarvasna betimaa ko chodaromantic sex storiesx** sexywww antarvasna hindi stories comsec storieshindi sex story antarvasna comantarvasna hindi katharead sex storiesdesi indian sex stories