सेक्सी भाभी की चुदाई देखी रात मे


यह कहानी सच्चाई पर आधारित है, इसमें हुई सारी घटनायें सच्ची हैं, लेकिन पात्रों के नाम बदल दिए गये हैं.
मैं अपने घर में सबसे छोटा हूँ. मेरे दो बड़े भाई हैं जिनमें से एक की शादी हो चुकी है और दूसरा बंगलौर में जॉब कर रहा था.

यह बात उस वक़्त की है जब मैं स्कूल ख़त्म करके आगे इंजिनियरिंग की तैयारी कर रहा था. कुछ महीने बाद मैंने एंट्रेन्स एग्ज़ॅम दिए जिसमे मेरे अच्छे अंक आए और मेरा दाखिला चंडीगढ़ के एक कॉलेज में हो गया.

चंडीगढ़ में मेरे चाचा का परिवार रहता था. चाचा की कई साल पहले मौत हो चुकी थी. घर में चाची, उनका बेटा और बहू रहते थे. उनकी बेटी भी थी जिसकी अब शादी हो चुकी थी.
तय यह हुआ कि मैं होस्टल में न रहकर चाचा के घर में रहकर इंजिनियरिंग के चार साल बिताऊँगा.

पहले मैं इस बात से बहुत नाराज़ हुआ, मुझे लगा कि कॉलेज का मजा तो होस्टल में ही आता है, लेकिन मुझे क्या पता था कि वो चार साल मेरी ज़िंदगी के सबसे खूबसूरत चार साल होंगे.

कुछ दिन बाद मैं निकल पड़ा चंडीगढ़ के लिए. रास्ते भर मैं खुश था कि कई साल बाद मैं अपनी भाभी से मिलूँगा.
सुमन मेरे चचेरे भाई रवि की बीवी का नाम है. रवि भैया मुझसे उम्र में आठ साल बड़े हैं. उन्होंने कॉलेज ख़त्म करने के कुछ महीने बाद ही सुमन भाभी से शादी कर ली थी.
मैं न जाने कितनी बार सुमन भाभी के नाम की मुट्ठी मारी थी.
और थी भी वो तगड़ा माल… शादी के वक़्त जब भाभी को दुल्हन के कपड़ों में देखा था, तब लंड पर काबू पाना मुश्किल था. मैंने बस यही सोचा था कि रवि भैया कितने खुशकिस्मत हैं जो इस बला की खूबसूरत लड़की को चोदने को मिल रहा है उन्हें !

‘राजेश, तुझे सबसे ऊपर दूसरी मंज़िल पर कमरा दिया है. अपना सामान लगा ले और नहा-धो कर नीचे आ जा खाने के लिए!’ चाची बोली.

मैं अपना सामान ऊपर ले जाने लगा. मेरी नज़र भाभी पर पड़ी, तो उन्होंने मेरी तरफ मुस्कुराकर कर देखा और अपना पल्लू हल्का सा खोलकर अपनी नाभि के दर्शन करा कर चिढ़ा रही थी.

शाम को भैया वापस आए. हम सबने खाना खाया और रात को सोने चले गये.

‘सुम्मी… अब रुक जा… नहीं तो मैं तेरे मुँह में ही छूट जाऊँगा.’
अंदर से भाभी की लंड चूसने की आवाज़ें बंद हो गई.

‘अब बता… मेरा लंड तुझे कितना पसंद है?’
भाभी बोली, ‘आप जानते हैं, फिर भी मुझसे बुलवाना चाहते हैं?’
‘बता ना मेरी जान?’

अचानक मेरी नज़र चाबी के छेद पर पड़ी. मैंने अपनी आँख लगाकर देखा कि क्या हो रहा है अंदर!
भैया बिस्तर पर बैठे थे और भाभी ज़मीन पर अपने घुटनों पर… दोनों नंगे थे.
भाभी को नंगी देख कर मेरी आँखें फटी रह गई. गोरा शरीर, सुंदर चूचियाँ देख कर मैं अपने लंड को और तेज़ी से हिलाने लगा. हाथ में उनके भैया का लंड था जिसे वो हल्के-हल्के हिला रही थी.

Pages: 1 2


Online porn video at mobile phone


free sex storiesdesi talesantarvasna gay storiesread sex storiesmastram sex storiessex khaniyahindisexhot sexy auntiesxxx antarvasna??? ?? ?????antarvasna hindi story pdfsex with auntieslatest desi kahanigujrati antarvasnasex story in marathisexy story antarvasnauncle sex storiesaunty ki chudaidesikahani.netlatest desi kahanisexi storywww.antarwasna.comantarvasna gujaratiantarvasna ihindi sex kahani?????? ????? ???????desikahani.netantarvasna with picantarvasna mastramgaram bhabhisex stori in hindichachi sexsexstoryantarvasna com kahanihindi sex kathadesi kahaniyaxossip auntiesdesi chootanty hot???????hindi chudai storiesanatrvasnaantarvasna bahubehen ki chudaiantarvasna hindi sexy stories comhindi sexy storyantarvasna samuhikantarvasna rapemausi ki chudaischool antarvasnasex hindisex story marathimaa beta sexantarvasna sex kahanihindi sex storischudai ki kahani in hindisexy kahaniyanxossip sex storiesantarvasna latestkamukata storyantarvasna behanfree hindi sex storyanarvasnamarathi antarvasna storydesi kahaniyanwww antarvasna hindi kahanisexi kahaniyahindi long sex storiesantarvasna chudaibahuranibhai behan ki antarvasnanude chudaimaa ki chudai hindiantarvasna . comgay sex storiesantarvasna picsindian mom sex storiesdesi sex hindiantarvasna gay storiesantarvasna hindi story 2010antarvasna marathi storysaas ki chudaiantarvasna bibiantarvasna hindi photo????? ???????sexy khaniyabhabhi antarvasnahinde sex storysex storisantarvasna images???? ?????