सेक्सी चाची की तड़पति जवानी


सभी रीडर्स को मेरा नमस्कार, मैं संदीप आपका दोस्त, आज आपके लिए मैं बहोत ही अच्छी कहानी ले कर आया हू जो की मेरी ही कहानी है और आपको बहोत पसंद आने वाली है.

ये कहानी आज से कुछ समय पहले की न्ही बल्कि 2 दिन पहले की है. तो कहानी पर जाने से पहले मैं अपना पहले थोड़ा बहुत इंट्रोडक्षन देना चाहता हूँ.

तो दोस्तो, मेरा नाम संदीप है और मेरी उम्र अभी 22 साल की है. मैं दिखने मे काफ़ी हॅंडसम हूँ. मेरी हाइट भी काफ़ी अच्छी है और मेरे लंड का साइज़ भी काफ़ी अछा है. मेरे लंड का साइज़ 6 इंच है और काफ़ी अछा है जिससे की चूत की प्यास को ख़तम किया जाता है.

मैं कॉलेज मे जाता हूँ और बहोत ही मस्ती भी करता हूँ. मैं अपनी लाइफ मे अब तक 3 लड़कियो को चोद चुका हूँ और तीनो को छोड़ने के बाद मुझे बहुत ही मज़ा मिला है.

मैं अब ऐसे ही सब कुछ बताता रहुगा पर अब साथ ही साथ मैं आपको अपनी कहानी पर ले कर चलता हूँ.

ये कहानी मेरी और मेरी चाची प्रिया के साथ की है. मेरी प्रिया चाची बहोत ही सेक्सी है और बहोत ही सुंदर है. उसका फिगर तो बहोत ही कमाल का है. उसका फिगर 38-32-38 का है जिसको देख कर हर किसी का लंड खड़ा हो जाता है.

मेरी चाची की उमर 38 साल है. बेशक उमर अच्छी ख़ासी है पर वो अभी भी काफ़ी जवान लगती है. मैं उनकी गांड को जब भी देखता हूँ तो मेरा मन उन्हे चोदने का करता है. और जब वो अपनी गांड को चलते हुए हिलाति है तो मेरा लंड खड़ा हो जाता है.

एक दिन की बात है. मैं अपनी चाची के घर गया हुआ था. हुमारा सबका घर एक ही कॉलोनी मे है इसलिए मैं उनके पास गया हुआ था और तब मैं जब वाहा गया तो वो नाइटी मे थी और घर पर कोई भी न्ही था.

मैं आपको एक बात बता दू की मेरे चाचा जी के लंड से वो बिल्कुल भी खुश न्ही थी और वो लंड लेने के लिए प्यासी थी.

मैं अब उनके कमरे मे बैठ गया और फिर तब मैने देखा की वाहा पर बेड पर टॉवेल ब्रा और पेंटी पड़े थे जिसको देख कर मेरा लंड खड़ा हो गया. मैं देख ही रहा था की तभी चाची ने मुझे आवाज़ दी और कहा की टॉवेल पकड़ा दो तो मैने पकड़ा दिया और फिर उन्होने मुझसे कहा की ब्रा और पेंटी भी पकड़ा दो तो मैने वो भी पकड़ा दिए.

अब वो बाहर आ गई तो मैने देखा की उन्होने काले रंग का सूट डाल रखा था जो की बहोत ही ज़्यादा अच्छा लग रहा था. उसमे से उनकी ब्रा भी दिख रही थी और वो बहोत ही सेक्सी लग रो थी. अब उनके जाने के बाद मैं वाहा से खड़ा हुआ और वाहा से जाने ल्गा तो उन्होने फिर से रोक लिया.

चाची – तुम्हे क्या कोई काम ज़रूरी है क्या?

मैं – न्ही तो क्यू क्या हुआ.

चाची – तो तुम मेरे साथ ही बैठ जाओ, मैं घर पर अकेली हूँ मेरा मन लग जाएगा.

मैं भी उनकी ये बात सुन कर उनको हाँ करदी और वही उनके पास बैठ गया. मुझे उनके पास बैठ कर बहोत अच्छा लग रहा था.वैसे मेरी चाची बहोत ही गुस्से वाली है इसलिए मैं खुद उनसे डरता था.

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published. Required fields are marked *


Online porn video at mobile phone


scooptimesstory pornsex storiedantarvasna wwwantarvasna hindi sex storiessexy antymarathi sexy storyantarvasna photos hotantarvasna hindi story appsexystoryantarvasna sex chathot sex storybhabhi ki jawaniindian sex stories in englishsexy stories hindiboob sucking storiesdesikahani.netchudai ki kahaniyandesi kahaniantarvasna story appantarvasna hindi sexy storyhindisexkahanisexystoriesgroup sex storyantarvasna hindi story appantrvasna.comdesi antarvasnaantarvasna big picturesex khaniyamaakichudaihindi sex story antarvasna comhindi sex storeantarvasna hdantarvasna sexstoriesmarathi kamuk kathaantarvasna bhai bhanantarvasna in hindi storyindian gay sex storybest antarvasnabhavi sexkamuk kahanifree antarvasnagay antarvasnajabardasti antarvasnasexstory in hindisasur bahu sex storyhindi me chudaisite:antarvasnasexstories.com antarvasnaantarvasna balatkarnonveg storychudai khaniantarvasna commastram hindi storiesantarvasna images of katrina kaifkahani chudai kiantarvasna chachi kisex kahani hindibap beti antarvasnasexikhaniyawww antarvasna comaxossip sex storiesantarvasna antarvasnagujrati sexsasur ne chodavelamma sex storiesantarvasna chudai ki kahaniwww.hindi sex storysavita bhabhi in hindiantarvasna storyantarvasna kahani com????? ?? ?????antarvasna oldantarvasna xantarvasna..com???????chodan.comxxx stories in hindimaa ko choda antarvasnadesi kahaniyansex kataluantarvasna mami ki chudaichudai ki kahaniyansavita bhabhi ki chudaidesikahani.netantarvasna gaysex stories marathiantarvasna gay sex stories